– 60 मीटर लंबे प्लांटर से और खूबसूरत लगेगा प्रवेश द्वार

– सीईओ नरेंद्र भूषण ने जल्द काम शुरू करने के निर्देश दिए

ग्रेटर नोएडा। ईस्टर्न पेरिफेरल एक्सप्रेसवे से उतरकर सिरसा प्रवेश द्वार से ग्रेटर नोएडा आने पर आगंतुकों को और भी सुखद अनुभूति होगी। एंट्री प्वाइंट के दोनों तरफ रोड के किनारे हरे-भरे अशोक व वोगेनवेलिया के पौधे लगाने के बाद अब प्राधिकरण बहुत जल्द यहां पर ट्रकर्स प्वाइंट भी विकसित करने जा रहा है। इसमें एक साथ 100 ट्रकों के पार्किंग की व्यवस्था होगी। इसके बन जाने से लंबा सफर करके ग्रेटर नोएडा आने वाले ट्रक चालकों को सहूलियत होगी। साथ ही 60 मीटर लंबाई में बनने वाले प्लांटर से प्रवेश द्वार की खूबसूरती में चार चांद लग जाएगा। इन कार्यों पर करीब ढाई करोड़ रुपये खर्च होने का अनुमान है।

ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण के सीईओ नरेंद्र भूषण ने पूर्व में भी सिरसा प्रवेश द्वार का दौरा किया था। उन्होंने इस जगह को खूबसूरत व हरा-भरा बनाने के निर्देश दिए थे। साथ ही ईस्टर्न पेरिफेरल एक्सप्रेसवे के रास्ते सिरसा प्रवेश द्वार से ग्रेटर नोएडा आने वाले ट्रक चालकों के लिए ट्रकर्स प्वाइंट बनाने के निर्देश दिए थे। उद्यान विभाग सिरसा प्रवेश द्वार के दोनों तरफ वोगेनवेलिया व अशोक के पेड़ लगवा चुका है। सीईओ नरेंद्र भूषण ने मंगलवार को इसका भी जायजा लिया।

इस स्थान पर अब प्राधिकरण ट्रकर्स प्वाइंट भी जल्द बनाने जा रहा है। परियोजना विभाग ने इसकी डिजाइन व एस्टीमेट तैयार करा लिया है। इस पर सीईओ की अनुमति भी मिल गई है। करीब ढाई करोड़ रुपये खर्च होने का आकलन है। ट्रकर्स प्वाइंट में करीब 100 ट्रकों के खड़े होने के लिए पार्किंग, एक अस्थायी ढाबा, 10 क्योस्क, सुलभ शौचालय, ग्रीन बेल्ट में बैठने के लिए सीट प्लेटफॉर्म व पेड़ पौधे लगाए जाएंगे। इसके पास ही रोड की दूसरी तरफ सीढ़ीनुमा प्लांटर बनाया जाएगा, जिसमें खूबसूरत प्लांट लगाए जाएंगे, जिससे यहां की खूबसूरती और बढ़ जाएगी। मंगलवार को सिरसा प्रवेश द्वार का निरीक्षण करने आए सीईओ नरेंद्र भूषण ने इन कार्यों को शीघ्र शुरू कराने और जल्द पूरा कराने के निर्देश दिए। इन विकास कार्यों से सिरसा प्रवेश द्वार से ग्रेटर नोएडा में आते ही आगंतुकों को अलग एहसास होगा।