– डीएम सुहास एलवाई ने ली परेड की सलामी

ग्रेटर नोएडा। 73वें गणतंत्र दिवस पर बुधवार को गौतमबुद्ध नगर के पुलिस लाइन में भव्य परेड का आयोजन किया गया। परेड की सलामी गौतमबुद्ध नगर के जिलाधिकारी सुहास एलवाई ने ली। परेड के दौरान देश के आन-बान और शान की झलक दिखी।

डीएम सुहास एलवाई ने कहा कि गौतमबुद्ध नगर उत्तर प्रदेश ही नहीं, देश के उन प्रसिद्ध जनपदों में है, जहां पर औद्योगिक, शैक्षणिक तथा आईटी सेक्टर का हब है। उन्होंने कहा कि जेवर अंतरराष्ट्रीय एयरपोर्ट तथा फिल्म सिटी बनने के बाद जनपद विदेश में प्रसिद्ध हो जाएगा। गौतमबुद्ध नगर पुलिस ने संगठित अपराध करने वालों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की है, और साइबर क्राइम पर प्रभावी रूप से रोक लगाई है। इस अवसर पर उन्होंने बच्चों को प्रेरित करने के लिए एक कविता भी सुनाई।

पुलिस आयुक्त आलोक सिंह ने कहा कि गौतमबुद्ध नगर पुलिस आयुक्तालय बनने के दो वर्ष के दौरान पुलिस ने कई सफलताएं हासिल की हैं। साइबर अपराध, संगठित अपराध करने वाले लोगों की संपत्ति कुर्क करने तथा महिला सुरक्षा को लेकर कई योजनाएं शुरू की गई हैं। मासूम बच्चों, जिनके माता-पिता उन्हें पढ़ा नहीं सकते, उनके लिए गौतमबुद्ध नगर पुलिस ने नन्हें परिंदे कार्यक्रम की शुरुआत की है। इसके माध्यम से 900 से ज्यादा बच्चों को पढ़ाया जा रहा है। पुलिस आयुक्त ने कहा कि बुजुर्ग लोगों की सेवा के लिए सवेरा कार्यक्रम शुरू किया गया है, जिसके माध्यम से करीब 1000 बुजुर्ग लोगों को जोड़ा गया है। उन्हें हर तरह की सहायता दी जा रही है।

आलोक सिंह ने कहा कि कोविड-19 में गौतमबुद्ध नगर पुलिस ने अपने कर्तव्य पालन के साथ-साथ सामाजिक सरोकार को ध्यान में रखते हुए काम किया। इस दौरान पुलिस के कुछ जवान शहीद भी हो गए। उन जवानों को भी उन्होंने श्रद्धांजलि दी। इस अवसर पर सराहनीय कार्य करने वाले पुलिस अधिकारियों, पुलिस कर्मचारियों तथा जनपद के उद्योगपतियों को भी सम्मानित किया गया।

कार्यक्रम के दौरान जिला जज अशोक कुमार सिंह, संयुक्त पुलिस आयुक्त लव कुमार, अपर पुलिस आयुक्त भारती सिंह, पुलिस आयुक्त की पत्नी आकांक्षा सिंह और जनपद के सभी पुलिस अधिकारी मौजूद रहे।