– ग्रेनो प्राधिकरण के सीईओ ने की बैठक, कई निर्देश दिए
– कोरोना में सोशल डिस्टेंसिंग का पालन कराने की तैयारी

ग्रेटर नोएडा। कोरोना संक्रमण रोकने के लिए मास्क और सोशल डिस्टेसिंग बेहद जरूरी है। इसका पालन कराने के लिए ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण ने भी कमर कस ली है। प्राधिकरण के सीईओ नरेंद्र भूषण ने अपने अधीनस्थ अधिकारियों के साथ बैठक कर बाजारों में सोशल डिस्टेंसिंग का पालन कराने के लिए दुकानों के आगे घेरा बनवाने के निर्देश दिए हैं। सीईओ ने दुकानदारों से बिना मास्क के सामान न देने की अपील की है।

प्राधिकरण के सीईओ नरेंद्र भूषण ने कहा कि कोराना संक्रमण की रफ्तार को रोकने के लिए सभी नागरिकों को घर से बाहर निकलना कम करना होगा। बिना मास्क के बाहर न निकलें। सीईओ ने अपने वर्क सर्किल अधिकारियों से दुकानों के आगे घेरा बनवाने के निर्देश दिए। उन्होंने दुकानदारों से बिना मास्क के किसी भी खरीदार को सामान न देने की अपील की। लोगों को जागरूक करने के लिए ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण शीघ्र ही दो ऑटो पर लाउडस्पीकर लगाकर एनाउंसमेंट करेगा, जिसमें हर बाजार, गांव, सेक्टर व प्रमुख स्थलों पर कोरोना से बचाव के तरीके बताए जाएंगे।

सीईओ नरेंद्र भूषण ने ग्रेटर नोएडा निवासियों से एन-95 मास्क ही लगाने की अपील की। उन्होंने कोरोना को देखते हुए ग्रेटर नोएडावासियों से पार्कों में भी कम से कम जाने की अपील की है। इस बैठक में एसीईओ दीप चंद्र व अमनदीप डुली, ओएसडी सचिन कुमार सिंह, जीएम मीना भार्गव, आरके देव, डीजीएम सीके त्रिपाठी और केआर वर्मा आदि मौजूद रहे।

एक सप्ताह में काम न हो तभी प्राधिकरण आएं :

कोरोना को देखते हुए सीईओ ने प्राधिकरण के अधिकारियों को निर्देश दिए कि ऑनलाइन प्राप्त होने वाली सभी शिकायतों को शीघ्र निपटाएं। अगर कोई काम एक सप्ताह में न होने वाला हो तो उसकी सूचना फरियादी को समय से दे दें, ताकि उसे पता रहे कि कितने समय में उसका काम हो जाएगा और वह ऑफिस न आए। अगर एक सप्ताह में शिकायतकर्ता को कोई जवाब न मिले तो वह प्राधिकरण आ सकता है। सीईओ ने शिकायत निपटाने में देरी करने वाले अधिकारियों-कर्मचारियों की जवाबदेही तय करने के निर्देश दिए।

कॉमन हॉल में शिकायत सुनेंगे प्राधिकरण के अधिकारी :

कोरोना के मद्देनजर सीईओ ने अर्बन सर्विसेज, बिल्डर, भूलेख व नियोजन समेत प्रमुख विभागों के अधिकारियों को दफ्तर के कॉमन हॉल में शिकायतें सुनने के निर्देश दिए , ताकि लोग दफ्तर तक न आएं। सीईओ ने आवंटियों की शिकायतों का निपटारा वहीं पर करने को कहा। साथ ही सभी अधिकारियों के फोन नंबर जारी करने के निर्देश दिए।

ऑनलाइन शिकायतों पर दिया जोर :

सीईओ ने ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण से जुड़े कार्यों के लिए ऑनलाइन प्लेटफॉर्मों का इस्तेमाल करने की अपील की। शिकायतों के लिए ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण की वेबसाइट, कॉल सेंटर, मित्रा एप व आईजीआरआस पोर्टल का इस्तेमाल करने की अपील की।