– मेट्रीमोनियल साइट बना जरिया, दूसरी शादी के लिए साथी ढूंढ रही थी महिला

मोहम्मद यूसुफ

नोएडा। मेट्रीमोनियल साइट के जरिए ठगी अब पुरानी बात हो गई है, लेकिन फिर भी एक महिला फौजी इसका शिकार हो गई। मेट्रीमोनियल साइट के जरिए एक युवक ने असम राइफल्स की महिला कांस्टेबल से 60 लाख रुपये ठग लिए।

पति की मौत के बाद ढूंढ रही थी जीवनसाथी

महिला के पति की दो साल पहले मौत हो चुकी है। घरवालों के कहने पर महिला ने दूसरी शादी के लिए मेट्रिमोनियल साइट पर प्रोफइल बनाया था। यहीं उसकी मुलाकात एक युवक से हुई। युवक ने खुद को इंडो कनेडियन बताकर उसके सामने शादी का प्रस्ताव रखा। उस व्यक्ति ने खुद को एक इंडियन टेलीकॉम कंपनी में सीनियर अधिकारी बताया। दोनों में इसके बाद बातचीत शुरू हो गई।

भांजे के एक्सीडेंट का बनाया बहाना

युवक ने महिला फौजी को बताया कि उसका भांजा भी असम में ही रहता है। एक दिन युवक का अचानक फोन आया। उसने कहा कि उसके भांजे का एक्सीडेंट हो गया है। उसकी हालत खराब है। उसके इलाज के लिए उसे कुठ पैसे की जरूरत है। यह भी कहा कि उसका अकाउंट यूएसए के टेक्सास में है, लेकिन वह अभी ब्लॉक हो गया है, जिससे वह पैसे नहीं निकाल पा रहा है। महिला युवक के झांसे में आ गई और पैसे दे दिए। कुछ दिन बाद उसने कहा कि भांजे की मौत हो गई और अंतिम संस्कार के लिए कुछ पैसे चाहिए। महिला ने फिर पैसे भेज दिए। उसके बाद एक बार फिर उसने बहाना बनाया कि भांजे की मौत के बाद बहन की तबीयत खराब हो गई है। उसके इलाज के लिए कुछ पैसे चाहिए। इस तरह से उसने महिला से 60 लाख रुपये ठग लिए।

शक होने पर महिला पहुंची साइबर थाना

बार-बार पैसे मांगे जाने के चलते महिला फौजी को शक हो गया और उसने नोएडा के साइबर सेल में शिकायत की। महिला से तीन महीने में 60 लाख रुपये की ठगी हो चुकी है। साइबर सेल थाना इंचार्ज रीता यादव का कहना है कि मामले की जांच की जा रही है। प्रारंभिक तौर पर युवक की प्रोफाइल फर्जी लग रही है।